दो फर्जी शिक्षाकर्मी भाई-बहन गिरफ्तार, ऐसे झांसा देकर सालों से कर रहे थे नौकरी

महासमुंद. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) के महासमुंद (Mahasamund) जिले में पुलिस ने दो फर्जी शिक्षाकर्मियों (Shikshakarmi) को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है. दो शिक्षाकर्मी भाई-बहन हैं और सालों से गलत दस्तावेजों के सहारे नौकरी कर रहे हैं. इन दोनों के खिलाफ अर्जुनी इलाके के रहने वाले एक शख्स ने पुलिस (Police) से शिकायत की थी. शिकायत के बाद कार्रवाई करते हुए पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है. बताया जा रहा है कि दोनों ने फर्जी तरीके से मेडिकल बोर्ड (Fake Medical Letter) का प्रमाण पत्र लगाकर नौकरी कर रहे थे. फिलहाल पुलिस (Police) आरोपियों से पूछताछ कर रही है.

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

जानकारी के मुताबिक, महासमुंद की पिथौरा पुलिस ने दो फर्जी शिक्षाकर्मी भाई-बहन को गिरफ्तार किया है. दोनों एक ही परिवार के सगे भाई बहन हैं जो फर्जी विकलांग प्रमाण पत्र के सहारे नौकरी कर रहे थे. बताया जा रहा है कि 2005 के शिक्षाकर्मी भर्ती में दोनों ने बहरेपन को लेकर मेडिकल बोर्ड का फर्जी प्रमाण पत्र लगाया था. इसके बाद दोनों फर्जी तरीके से शिक्षक बनकर राजाडेरा और सरकड़ा स्कूल में पदस्थ थे और नौकरी कर रहे थे. दोनों फर्जी शिक्षकों का नाम राकेश सिन्हा और रजनी सिन्हा बताया जा रहा है.

शिकायत के बाद हुई कार्रवाई

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2