राष्ट्रीय कृषि मेला में लगेगी पशुधन उत्पादों की प्रदर्शनी

रायपुर| राष्ट्रीय कृषि मेला 2020 में कृषि एवं खाद्य प्रसंस्करण नवाचार एवं प्रौद्योगिकी को बढ़ावा देने के लिए राज्य के प्रगतिशील कृषकों एवं स्व-सहायता समूहों के उत्पादों की प्रदर्शनी लगायी जाएगी। मेले में पशुधन उत्पादों का विक्रय भी किया जाएगा। पशुपालन विभाग के अधिकारी ने बताया कि 23 से 25 फरवरी तक तुलसी बाराडेरा स्थित थोक फल मंडी परिसर में आयोजित होने वाले कृषि मेले में पशुधन विकास से संबंधित विभिन्न उत्पादों को न्यूनतम मूल्यों पर बेचा जाएगा। इन उत्पादों में ए-दूध (बीटा केसिन प्रोलीन) 80 रूपए प्रति लीटरदेशी घीबकरे (बीटलसिरोहीबरबरी नस्ल) से 10 हजार रूपए (नस्ल एवं उम्र के हिसाब से)कड़कनाथ मुर्गा 800 रूपए प्रति किलोग्रामबत्तख (खाकीकेम्पबेलव्हाइट पैकिन) 400 रूपए प्रति किलोग्रामजापानी बटेर 120 रूपए प्रति जोड़ीखरगोश (चिनचिला कोट) 500 रूपए प्रति जोड़ीदेशी मुर्गी (बैकयार्ड) 500 रूपए प्रति किलोग्रामदेशी मुर्गी अण्डा 10 रूपए प्रति नगबत्तख अंडा 20 रूपए प्रति नगगोमूत्र अर्क 70 रूपए प्रति लीटरगोनाइल 40 रूपए प्रति लीटरगोबर की मूर्ति छोटा 30 रूपए प्रति नग और बड़ा 70 रूपए प्रति नगगमले 10 से 20 रूपए प्रति नगधूप बत्ती 10 रूपए प्रति पैकेटवर्मी कंपोस्ट 500 रूपए प्रति बोरी (50 किलोग्राम)जैविक कीटनाशक 40 रूपए प्रति लीटर और जैविक खाद रूपए प्रति किलोग्राम की दर पर बिक्री होगी।


0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2