रायपुर : दुर्ग जिले के 42 गांव में नए नलकूपों की स्थापना

 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के निर्देशन और लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रूद्रकुमार की पहल पर विभाग द्वारा दुर्ग जिले के 42 ग्रामों में नए नलकूप खनन कार्य की प्रशासकीय स्वीकृति दी है। उल्लेखनीय है कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने विभागीय समीक्षा बैठक के दौरान ग्रामीण क्षेत्रों में गर्मी के मौसम को देखते हुए पेयजल योजनाओं और नलकूपों के रखरखाव, मरम्मत कार्य और नए नलकूप स्थापना करने के निर्देश दिए थे।

 

      विभागीय अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार दुर्ग जिले के धमधा, पाटन एवं दुर्ग विकासखंड के 42 गांव में 79 लाख 38 हजार रुपए की लागत के नलकूप खनन कार्य की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई है। इसके तहत धमधा विकासखंड के ठेलका, नवागांव (साल्हे), कोनका, साल्हेखुर्द, अगार, राजपुर, देवरी, सोनेसरार, बोरी, डोमा, पथरिया(डोमा), टेकापार, धुमा, बिरेझर, टेमरी, हसदा, मुड़पार, नारधा, दारगांव, गोता, नंदनी-खुंदनी, सहगांव, ढ़ौर(हि.), पुरदा (बड़े) और पाटन विकासखंड के ग्राम कौही, तर्रीघाट, बोरेंदा, केसरा, जरवाय, खर्रा तथा दुर्ग विकासखंड के ग्राम निकुम, अछोटी, कचांदुर, मचांदुर, अंजोरा (ढ़ाबा), नगपुरा, बासिन, बोड़ेगांव, अंडा, रिसामा, रवेलीडीह और ग्राम करंजा भिलाई में एक-एक नलकूप खनन कार्य की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गई है। कार्यालय अधीक्षण अभियंता लोक यांत्रिकी विभाग दुर्ग मंडल द्वारा इस आशय का पत्र जारी कर अधिकारियों को 150 मीटर व्यास एवं 190 मीटर गहराई के एक्स्ट्रा डीप नलकूप खनन कार्य को प्राथमिकता से निर्धारित समय-सीमा में पूर्ण कर ग्रामीणों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए है।

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2