चीनी निर्भरता कम करने के लिए योगी सरकार का ODOP मिशन, दिख रहा असर!

भारत और चीन के बीच सीमा पर विवाद बढ़ने के बाद पूरे देश में आक्रोश का माहौल है. लोग चीनी सामानों का बहिष्कार कर रहे हैं. चीनी सामानों की होली जलाई जा रही है. वहीं चीन से कारोबारी रिश्ते बिगड़ने पर यूपी में 'वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट' (ओडीओपी) योजना यानी एक जिला एक उत्पाद के लिए एक बड़ा बाजार तैयार होने की संभावना जताई जा रही है. 

दरअसल, प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभालने के बाद योगी आदित्यनाथ ने यूपी के स्थानीय उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए एक जिला एक उत्पाद योजना शुरू की थी.

चीन के सामानों के बहिष्कार को देखते हुए प्रदेश सरकार ने ओडीओपी उत्पादों को प्रमोट करने की योजना बनाई है. इसके लिए जुलाई के पहले हफ्ते में एक वर्चुअल प्रदर्शनी का आयोजन होने जा रहा है. इस प्रदर्शनी के जरिए योगी सरकार देश के विभिन्न राज्यों के साथ ही दूसरे देशों के कारोबारियों का ध्यान ओडीओपी की तरफ खींचने की कोशिश करेगी. 

सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग इस प्रदर्शनी की तैयारियों में जुटा हुआ है. विभाग के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल का कहना है कि ओडीओपी उत्पाद राज्य में चीनी उत्पादों की आयात कम करने में अहम भूमिका निभाएंगे. इन उत्पादों की गुणवत्ता सुधारने और फीनिशिंग बेहतर करने के लिए सभी जिलों में कामन फैसिलिटी सेंटर (सीएफसी) के तहत अत्याधुनिक मशीनें लगाने का काम शुरू कर दिया गया है. उत्पादों की फिनिशिंग बेहतर होगी तो समूचे विश्व में मांग बढ़ेगी.

बोन क्राफ्ट के लिए मशहूर संभल में अब चीन जैसे फिनिशिंग वाले बटन बनने लगे हैं. पहले यहां जो बटन बनते थे वह फिनिशिंग के लिए चीन भेजे जाते थे. राज्य सरकार ने सीएफसी स्थापित कर यहां पर करीब पांच करोड़ की लागत से अत्याधुनिक मशीनें लगा दी है, जिससे अब यहां बनने वाले बटन को फिनिशिंग के लिए चीन नहीं भेजा जाता है.

आगरा में लेदर से बनने वाले जूते और अन्य उत्पादों के लिए 10 करोड़ रुपये की लागत से मशीनें लगाई गई हैं. यहां बनने वाले जूते अब विदेशों से वापस नहीं लौटाए जाते हैं. 

आगरा जैसी लेबोरेटरी कानपुर में भी स्थापित की जा रही है. आने वाले दिनों में गोरखपुर से खुबसूरत मिट्टी की मूर्तियां बनेंगी जो चीन की मूर्तियों को कड़ी टक्कर दे सकेंगी. इसके लिए पूरी तैयारी हो गई है. माटी कला बोर्ड गोरखपुर के कामन फैसिलिटी सेंटर में मशीनें लगवाने जा रहा है जिससे खूबसूरत मूर्तियों का निर्माण हो सकेगा. इस बार दीपावली पर यूपी के बाजारों में चीन में बनी लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियों का बाजार फीका पड़ेगा.


राज्य सरकार का लक्ष्य ओडीओपी योजना के तहत ज्यादा से ज्यादा प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलवाना भी है. इसके लिए सरकार द्वारा कई प्रयास भी किए जा रहे हैं. ओडीओपी योजना के उद्यमियों को आसानी से कर्ज मुहैया करवाने के लिए राज्य सरकार बैंकों से अपील कर रही है. उद्यम शुरू करने के लिए आसानी से कर्ज मिले, इसके लिए हर महीने लोन मेला भी शुरू किया जाएगा.

0/Post a Comment/Comments

Previous Post Next Post

RVKD NEWS

Ads1

Facebook

Ads2